गलतफहमी से बढ़कर दोस्ती का दुश्मन नहीं कोई,

परिंदों को उड़ाना हो तो बस शाख़ें हिला दीजिए।..