न गवाह मिलते हैं न लाशें मिलतीं हैं…

इसलिये लोग बेख़ौफ होकर एहसासों का कत्ल करते हैं…!!