तेज धुप में छाव की छाया

बाकि सब महादेव की माया